vd sharma Connected Khargone violence with pfi: Khargone violence Connected To PFI : bjp Leader vd sharma Connected Khargone violence with pfi and targate digvijay Singh

0
21


भोपाल :खरगोन हिंसा ( Khargone violence ) पर मध्य प्रदेश बीजेपी के अध्यक्ष वीडी शर्मा ( BJP Leader VD Sharma ) ने बड़ा बयान दिया है। भोपाल में पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि इस हिंसक घटना में पीएफआई ( PFI ) का हाथ है। प्रदेश में सॉफ्ट नक्सलिज्म बढ़ रहा है, जिसका समर्थन कांग्रेस कर रही है। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह पर हमला बोलते हुए कहा कि वे सीधे तौर पर ऐसे दंगाइयों का साथ दे रहे हैं।

वीडी शर्मा ने कहा कि दिग्विजय सिंह की अंतरराष्ट्रीय भूमिका है, इसकी कड़ाई से जांच होनी चाहिए। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने सवालियां अंदाज में पूछा कि आखिर क्यों दिग्विजय सिंह नक्सलियों और आतंकवादियों के समर्थन में खड़े रहते हैं।

Khargone Curfew Relaxation : खरगोन में 3 दिन बाद कर्फ्यू में 2 घंटे की राहत, सामान के लिए उमड़ी महिलाओं की भीड़
वहीं खरगोन हिंसा पर प्रदेश के गृह और जेल मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि खरगोन की घटना में भ्रम फैलाने वाले पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। ऐसे मामले में किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा। आगे उन्होंने कहा कि खरगोन में स्थिति नियंत्रण में है और संदिग्धों पर कानून सम्मत कार्रवाई की जा रही है। जो लोग भी सोशल मीडिया पर प्रदेश के अमन चैन से खिलवाड़ करेंगे, उन्हें बख्शा नहीं जाएगा।

Khargone Update News : 48 घंटे में तीन बार सुलगा खरगोन, अभी तक क्या-क्या हुआ, जानें सब कुछ
गौरतलब है कि खरगोन में हिंसा के बाद लगे कर्फ्यू ( Curfew in Khargone ) के चौथे दिन 2 घंटे के लिए छूट का ऐलान किया गया है। कलेक्टर खरगोन ने शहर में आज सुबह 10 से 12 बजे तक कर्फ्यू में ढील ( relaxation in curfew ) के आदेश दिए थे। ये छूट सिर्फ किराना, सब्जी दूध और मेडिकल के लिए थी। वहीं कर्फ्यू में राहत के ऐलान के बाद बाद बड़ी संख्या में महिलाएं घरों से बाहर निकलीं और अपने नजदीकी किराना दुकान से समान खरीदने के लिए पहुंचीं।

खरगोन हिंसा : चेहरे पर नकाब, हाथ में लाठी-डंडे और तलवार, शिवम के भाई से जानिए उस दिन हुआ क्या था
बता दें कि 10 अप्रैल को रामनवमी के दिन खरगोन में करीब 10 घरों को फूंक डाला गया था। इस घटना में एसपी सिद्धार्थ समेत कई लोग घायल हुए थे। पुलिस-प्रशासन के अनुसार, अब तक इस मामले में 27 मामले दर्ज किए गए हैं। 100 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। वहीं राज्य सरकार ने कहा है कि नुकसान की भरपाई दंगाइयों से ही की जाएगी। इसके लिए दो सदस्यीय दावा न्यायाधिकरण का गठन किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here