Get Latest News, India News, Breaking News, Today's News – TODAYNEWSNETWORK.in

TNN (2)
Home Cities shivpal yadav: Shivpal Yadav : Shivpal Yadav has dissolved all the units of Pragatisheel Samajwadi Party, With this the question has started to arise whether Shivpal is going to join BJP now – शिवपाल यादव ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी की सभी इकाइयों को भंग कर दिया है। इसके साथ ही सवाल उठने लगा है कि शिवपाल क्या अब भाजपा में जाने वाले हैं – Navbharat Times

shivpal yadav: Shivpal Yadav : Shivpal Yadav has dissolved all the units of Pragatisheel Samajwadi Party, With this the question has started to arise whether Shivpal is going to join BJP now – शिवपाल यादव ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी की सभी इकाइयों को भंग कर दिया है। इसके साथ ही सवाल उठने लगा है कि शिवपाल क्या अब भाजपा में जाने वाले हैं – Navbharat Times

shivpal yadav: Shivpal Yadav : Shivpal Yadav has dissolved all the units of Pragatisheel Samajwadi Party, With this the question has started to arise whether Shivpal is going to join BJP now – शिवपाल यादव ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी की सभी इकाइयों को भंग कर दिया है। इसके साथ ही सवाल उठने लगा है कि शिवपाल क्या अब भाजपा में जाने वाले हैं – Navbharat Times


लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में इस समय शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) चर्चा के केंद्र में बने हुए हैं। कभी समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के संरक्षक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) के राइट हैंड कहे जाने वाले शिवपाल यादव अब पार्टी में ही अलग-थलग पड़ गए हैं। उत्तर प्रदेश चुनाव के दौरान जब समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने उन्हें तवज्जो दी और पार्टी के टिकट पर जसवंतनगर सीट से उम्मीदवार बनाया तो उन्हें उम्मीद जगी कि एक बार फिर उनकी पूछ पार्टी में बढ़ने वाली है। हालांकि, चुनाव खत्म बात खत्म वाली बात उनके साथ हो गई। अखिलेश ने उन्हें एक बार फिर किनारे लगाया तो उन्होंने पार्टी से ही किनारा करने की रणनीति बना डाली। अब उन्होंने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) की सभी कमेटियों को भंग कर बड़ा संकेत दे दिया है।

शिवपाल यादव के भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janata Party) में शामिल होने की कयासों पर आधारित खबरें लगातार सुर्खियों में हैं। समाजवादी पार्टी विधायक दल की बैठक के बाद से लगातार शिवपाल यादव की नाराजगी से भरे बयान सामने आते रहे हैं। बड़े भाई मुलायम सिंह यादव से दिल्ली में मुलाकात के बाद शिवपाल यादव ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। इस मुलाकात ने प्रदेश की राजनीति को गरमा दिया। इसके बाद दावा किया गया कि शिवपाल यादव भाजपा में जा सकते हैं। हालांकि, शिवपाल यादव ने सही वक्त का इंतजार करने की बात करके हर किसी को राजनीतिक कयासबाजी का मौका दे दिया। अब प्रसपा की सभी इकाइयों को भंग किए जाने के बाद सवाल उठने लगा है कि क्या शिवपाल के पाला बदलने का सही समय आ गया है?

पार्टी की राज्य और राष्ट्रीय कमेटियां भंग
प्रसपा की तमाम राष्ट्रीय और राज्य कमेटियों को भंग कर दी हैं। माना जा रहा है कि शिवपाल यादव अब अगला राजनीतिक कदम बढ़ाने जा रहे हैं। इस क्रम में यह उनका पहला बड़ा कदम है। यूपी चुनाव 2022 में प्रसपा के कई नेता पार्टी से छिटक गए। शिवपाल ने अखिलेश यादव के साथ गठबंधन किया। इसके तहत केवल उन्हें एक सीट मिली। वह भी सपा के सिंबल पर लड़े। इस स्थिति में प्रसपा का नामलेवा नहीं रहा। ऐसे में पार्टी के समर्पित कार्यकर्ताओं ने दूसरा ठिकाना तलाशा। शिवपाल के इस कदम के दो मतलब लगाए जा रहे हैं। एक या तो वे अपनी पार्टी को नए सिरे से खड़ा करने की दिशा में बढ़ रहे हैं या फिर वे भाजपा के साथ मिलने जा रहे हैं।

आदित्य यादव ने जारी किया आदेश
शिवपाल के बेटे और प्रसपा के महासचिव आदित्य यादव ने राष्ट्रीय और राज्य कमेटियों को भंग करने का आदेश जारी किया। इस आदेश में कहा गया कि प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव के निर्देश के तहत प्रदेश कार्यकारिणी और राष्ट्रीय एवं प्रादेशिक प्रकोष्ठों की कार्यकारिणी अध्यक्ष सहित संपूर्ण प्रवक्ता मंडल को भंग किया जाता है। इस प्रकार कार्यवाहक मुख्य प्रवक्ता का पद भी खत्म कर दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here