sanjay raut news: Mohit kmaboj allegations on sanjay raut: मोहित कंबोज ने संजय राउत पर लगाये गंभीर आरोप

0
24


मुंबई: बीजेपी(BJP) नेता मोहित कंबोज(Mohit Kamboj) ने शिवसेना सांसद और वरिष्ट नेता संजय राउत(Sanjay Raut) पर प्रेस कॉन्फ्रेंस लेकर गंभीर आरोप लगाए हैं। कंबोज ने आरोप लगाया कि संजय राउत के मुताबिक जितेंद्र नवलानी के जरिए ईडी अधिकारियों ने महाराष्ट्र के उद्योगपतियों से 160 करोड़ रुपए की वसूली की है। कंबोज ने आरोप लगाया कि संजय राउत बीते 18 सालों से राज्यसभा के सांसद हैं। उन्हें यह मालूम होना चाहिए कि किसी भी सेंट्रल एजेंसी के अधिकारी का जूरिडिक्शन सीबीआई होता है। यानी उन्हें इस बात की सीबीआई एंटी करप्शन विंग में शिकायत करनी चाहिए थी न कि मुंबई(Mumbai) पुलिस में।

सलीम जावेद की स्टोरी सुना रहे राउत
मोहित कंबोज ने कहा कि संजय राउत जिस तरह की बात कर रहे हैं। उसे ऐसा लगता है कि वह सलीम जावेद की कोई स्टोरी सुना रहे हों। कंबोज ने आरोप लगाया कि संजय राउत मुंबई में उद्योगपतियों की शिकायत कर उनमें डर पैदा करते हैं और फिर उनसे उगाही करने का साजिश रच रहे हैं। अगर उन्हें वाकई में इस मामले की जांच करवानी होती तो वह सीधे सीबीआई जांच की मांग करते ना कि ईओडब्ल्यू को जांच संबंधी पत्र लिखते। देश में घूस देना और घूस लेना दोनों ही अपराध है। अच्छा होता कि संजय राउत इस मामले की शिकायत मुंबई सीबीआई के एंटी करप्शन विंग से करते। जिसमें इन सभी डेवलपर्स को आरोपी बनाया जाता है। ईडी के संदिग्ध अधिकारियों को आरोपी बनाया जाता और जिस जितेंद्र नवलानी को ईडी का फ्रंटमैन बताया जा रहा है। वह भी इस मामले में आरोपी बनता।

सीएम सीबीआई को लिखें खत
मोहित कंबोज ने कहा कि फिलहाल महाराष्ट्र में सीबीआई की जांच पर राज्य सरकार ने रोक लगाई है। संजय राउत ने शिवसेना भवन में बैठकर प्रेस कॉन्फ्रेंस ली थी। ऐसे में इसका सीधा मतलब है कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की भी इसमें सहमति थी। ऐसे में खुद मुख्यमंत्री को आगे बढ़ते हुए इस संबंध में सीबीआई को जांच के लिए खत लिखना चाहिए ताकि दूध और पानी का पानी हो सके। कंबोज ने कहा कि खुद को फंसता हुआ देखकर संजय राउत यह आरोप सेंट्रल एजेंसी ऊपर लगा रहे हैं। यह भी कहा कि अगर आपको यह सब पहले से ही पता था तो आपको इसकी शिकायत तुरंत करनी चाहिए थी आखिर आपने इतने गंभीर मामले को अब तक क्यों छुपा कर रखा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here