Pakistan PM Shahbaz Sharif Is Going To Visit Saudi Arabia And China Hindi News – पाकिस्तान की सत्ता संभालने के बाद सबसे पहले सऊदी अरब और चीन के दौरे पर जा रहे हैं शहबाज शरीफ

0
18

सोमवार को शरीफ (70) ने पाकिस्तान के 23वें प्रधानमंत्री के तौर पर शपथ ली थी.

इस्लामाबाद:

पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री के रूप में कार्यभार संभालने के बाद शहबाज शरीफ के अपनी पहली विदेश यात्रा पर सऊदी अरब और चीन का दौरा करने की उम्मीद है. मीडिया में मंगलवार को आई एक खबर में यह जानकारी दी गई. परंपरागत रूप से, दोनों देशों के साथ इस्लामाबाद के सामरिक संबंधों के कारण, एक पाकिस्तानी प्रधानमंत्री की पहली विदेश यात्रा अक्सर रियाद और बीजिंग की होती रही है. इमरान खान को सत्ता से हटाने के बाद सोमवार को शरीफ (70) ने पाकिस्तान के 23वें प्रधानमंत्री के तौर पर शपथ ली थी. पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के प्रमुख खान पाकिस्तान के पहले प्रधानमंत्री हैं जिन्हें नेशनल असेंबली में अविश्वास प्रस्ताव में हार का सामना करना पड़ा.

यह भी पढ़ें

‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ अखबार ने सत्तारूढ़ पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) के एक नेता के हवाले से कहा कि शरीफ अपनी सऊदी अरब यात्रा के दौरान उमराह करेंगे और सऊदी नेतृत्व से मुलाकात करेंगे. शरीफ परिवार के सऊदी शाही परिवार के साथ घनिष्ठ व्यक्तिगत संबंध हैं. क्योंकि अक्टूबर 1999 के तख्तापलट के बाद नवाज शरीफ की सुरक्षित निकासी सुनिश्चित करने में उसने केंद्रीय भूमिका निभाई थी.

सऊदी अरब ने अतीत में लगातार पाकिस्तानी सरकारों को वित्तीय राहत पैकेज दिए हैं. खबर में कहा गया है कि रियाद ने पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की सरकार को छह अरब अमरीकी डॉलर का राहत पैकेज दिया.

इसमें कहा गया कि यह स्पष्ट नहीं है कि क्या शरीफ भी वित्तीय सहायता मांगेंगे, यह देखते हुए कि सऊदी अरब ने कुछ समय पहले ही पाकिस्तान को तीन अरब अमेरिकी डॉलर प्रदान किए थे.

सऊदी दौरे के बाद शरीफ के चीन जाने की भी उम्मीद है. खबर में कहा गया कि शरीफ को उनके प्रशासनिक गुणों के कारण चीनी नेतृत्व के बीच अच्छी प्रतिष्ठा के लिए जाना जाता है. खबर के मुताबिक पिछले पीएमएल-एन कार्यकाल के दौरान, शहबाज ने चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) परियोजनाओं को गति देने में केंद्रीय भूमिका निभाई थी.

चीन के सरकारी मीडिया ने प्रधानमंत्री के रूप में शहबाज के चुनाव का स्वागत किया और टिप्पणी की कि बीजिंग के साथ शरीफ परिवार की पिछले रिश्तों को देखते हुए, नए प्रधानमंत्री खान की तुलना में द्विपक्षीय संबंधों के लिए बेहतर साबित होंगे.

नेशनल असेंबली में सोमवार को अपने पहले संबोधन में शरीफ ने चीन और सऊदी अरब के साथ पाकिस्तान के नजदीकी संबंधों की काफी प्रशंसा की थी.

8 सोशल मीडिया एक्टिविस्ट गिरफ्तार

पाक सेना प्रमुख के खिलाफ प्रचार के लिए इमरान खान की पार्टी के 8 सोशल मीडिया एक्टिविस्ट गिरफ्तार किए गए हैं. खबर के अनुसार पाकिस्तान की संघीय जांच एजेंसी (एफआईए) ने मंगलवार को पंजाब प्रांत के विभिन्न हिस्सों में सेना प्रमुख और सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीशों को सोशल मीडिया पर निशाना बनाए जाने को लेकर गिरफ्तारियां कीं है. एफआईए के मुताबिक, उसे खुफिया एजेंसियों से सेना प्रमुख और शीर्ष अदालत के जजों के खिलाफ सोशल मीडिया अभियान में शामिल 50 संदिग्धों की सूची मिली थी, उनमें से आठ को हिरासत में लिया गया है.

सवाल इंडिया का : क्या नई दिल्ली में लड़ा जा रहा है नया शीत युद्ध?

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here