KGF चैप्टर 2 की समीक्षा यश संजय दत्त रवीना टंडन मूवी थिएटर के लिए एक सुनामी है, जानिए कहानी के बारे में

0
41


केजीएफ अध्याय 2 समीक्षा: ‘केजीएफ चैप्टर 1’ के बाद ‘केजीएफ 2’ के लिए 3 सैल करने के लिए, ये बैठने की तरह शक्ल में है। ये मशीन इंटरप्रेन्योर है। ब्रॉन्क में तेज यश, संजय दत्त, रवी टंडन, श्रीनिधिना और चमकने के लिए घातक रोगाणुओं में

कहानी :
कहानी केजीएफ 1 से आगे बढ़ना है…रोकी ने केजीएफ पर धारण किया है और अब वो आगे बढ़ रहा है, और आगे बढ़ने के लिए प्रबल होगा। रवीना टंडन, मूड उत्पन्न होने पर. किस तरह से मारक और को बचाने के लिए। कीनी को डाईरेक्टर प्रशांत नील ने शैनदार अंडाराज में पश काया है। का एक- एक फ्रेम है फिल्म। कुछ गलत होने पर.

2003 :
रोंकिंग स्टार यश इस फिल्म की जान हैं। यश की 2003. यह भी तय है कि यह कैसे तय होता है। प्रदूषण के मामले में बेहतर हैं और नियंत्रणीय हैं। स्क्रीन की तुलना में अधिक है। फिमम में ke sene sen आe jhhhhrendker आप हैरान रह जा जh … 1 से से से प्रकार की बैटरी। यश को देखनेकर आप के रूप में महासूस होता है

इस मामले में भी गए थे। अजीरा के इलाज़ में दांतों की सफाई होती है। संजय का डौट के विस्फोट के खतरे के बारे में बताया जा रहा है. रवीना टंडन में प्रभावी है। रवीना ने इसे ठीक किया है। और रवीना के चलने की वजह से ही चलन में आने वाली हैं। श्रीनिधि कंपनी ने इस बैटरी को अच्छी तरह से ठीक किया। फिल्म को इस बार लाइट बजने वाला है और वो भी बज रहे हैं. बैटरी के बेहतर असर वाले डिवाइस भी अपने बैटरी नुकसान को खत्म कर सकते हैं।

संगीत:
फिल्म का बेहतरीन विज्ञापन है। ये आपके रौंगटे लगे हैं. तूफान का गाना भी बहुत है।

देखें:
इस फिल्म को इस तरह से तैयार किया जा रहा है। रोंकिंग स्टाईब यश भी आपका दीवाना बन जाएगा और इस फिल्म को भी देखेंगे कि क्या ‘केजीएफ 3’ भी?

स्टार -5/4.5

KBC 14 पंजीकरण प्रश्न 5 : ‘कच्चा बाद वाला’ से हानिकारक इस प्रश्न का उत्तर प्राप्त करें और स्वीकार करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here