Get Latest News, India News, Breaking News, Today's News – TODAYNEWSNETWORK.in

TNN (2)
Home Cities Corona Xe Variant In Delhi: latest news update on covid cases in delhi and xe variant in delhi, दिल्ली में केस बढ़े, मगर नहीं मिला XE या कोई नया वेरिएंट

Corona Xe Variant In Delhi: latest news update on covid cases in delhi and xe variant in delhi, दिल्ली में केस बढ़े, मगर नहीं मिला XE या कोई नया वेरिएंट

Corona Xe Variant In Delhi: latest news update on covid cases in delhi and xe variant in delhi, दिल्ली में केस बढ़े, मगर नहीं मिला XE या कोई नया वेरिएंट


नई दिल्ली: दिल्ली में अभी कोरोना का कोई नया वेरिएंट नहीं है। एलएनजेपी अस्पताल में हुई जीनोम सिक्वेंसिंग में कोई नया वेरिएंट नहीं मिला है। सभी मामले ओमिक्रॉन के ही पाए गए हैं। एक भी मामले में XE वेरिएंट नहीं मिला है। इसलिए डॉक्टरों का कहना है कि नंबर जरूर बढ़ रहे हैं, लेकिन इसको लेकर पैनिक होने की जरूरत नहीं है। डॉक्टरों का यह भी कहना है कि दिल्ली में भी संक्रमण दर और नए मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है, लेकिन इसकी वजह से अस्पतालों में कोविड मरीजों का एडमिशन नहीं बढ़ा है, जो राहत की बात है।
Delhi Covid Update: दिल्ली में क्या हो रहा है? बीते हफ्ते देश में मिले कोरोना के कुल मामलों में 11% दिल्ली से
एलएनजेपी अस्पताल के मेडिकल डायरेक्टर डॉक्टर सुरेश कुमार ने कहा कि उनके यहां जितने भी कोविड के नए मरीज आ रहे हैं, उन सबकी जिनोम जांच की जा रही है। उन्होंने कहा कि हाल में ही में 30 सैंपल जांच रिपोर्ट आई है और सभी में ओमिक्रॉन ही पाए गए। एक भी सैंपल में कोई नया वेरिएंट या XE वेरिएंट नहीं मिला। उनके अस्पताल में सिर्फ 4 मरीज एडमिट हैं, 3 आईसीयू में हैं और एक जनरल वॉर्ड में है। डॉ. सुरेश ने कहा कि नोएडा के स्कूल में बच्चों में संक्रमण मिला है, लेकिन अभी तक दिल्ली में ऐसा सुनने को नहीं मिला है और ना ही अस्पताल में कोविड की वजह से कोई बच्चा एडमिट है।

बढ़ते संक्रमण को लेकर मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज की कम्युनिटी मेडिसिन की डॉक्टर नंदिनी शर्मा ने कहा कि यह सच है कि मामले बढ़े हैं, लेकिन लोगों में मामूली लक्षण मिल रहे हैं। अस्पतालों में इसकी वजह से एडमिशन नहीं बढ़ा है। सीवियरिटी नहीं बढ़ी है। चूंकि महामारी अब अंतिम स्टेज में है और कुछ न कुछ मामले आएंगे। कभी ज्यादा तो कभी कम। लेकिन ध्यान देने वाली बात यह है कि इसकी वजह से बीमारी नहीं बढ़ी है। उन्होंने कहा कि कॉमन कोल्ड, खांसी, जुकाम होते रहते हैं, अभी इंफ्लुएंजा की जांच करेंगे तो उसकी संख्या बढ़ जाएगी। लेकिन जिस तरह इसमें भर्ती नहीं होती है, उसी तरह कोविड में भी दिख रहा है।

Corona XE Variant: दिल्ली में संक्रमण दर 2.70 पर्सेंट तक पहुंची, दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री ने लोगों से सावधानी बरतने की अपील की, कहा- XE वेरिएंट से घबराएं नहीं
सावधानी बरतने की जरूरत बरकरार
डॉक्टर नंदिनी ने हालांकि कहा कि हमें अलर्ट रहना है। सरकार इस दिशा में काम कर रही है। नए वेरिएंट पर नजर रखने के लिए जिनोम जांच की जा रही है, ताकि समय पर पता चल सके कि वायरस किस तरह का बिहेव कर रहा है। कहीं ज्यादा संक्रामक तो नहीं है। यह सरकार का काम है और सरकार इसे कर रही है। जहां तक आम लोगों की बात है तो उन्हें पैनिक नहीं होना चाहिए। जब तक बीमारी नहीं होती और अस्पतालों में मरीजों की संख्या नहीं बढ़ती है, तब तक परेशान न हों। हमारे पास वायरस के खिलाफ अच्छी-खासी इम्युनिटी मिली है। संक्रमण और वैक्सीन दोनों की इम्युनिटी है। इसलिए डरें नहीं, लेकिन नियमों का पालन जरूर करें।

वहीं, पीडियाट्रिक्स एक्सपर्ट और दिल्ली मेडिकल काउंसिल के प्रेजिडेंट डॉक्टर अरुण गुप्ता ने कहा कि हमें नंबर पर नहीं जाना चाहिए। एडमिशन रेट देखें, बिल्कुल नहीं बढ़ा है। यह महामारी है, संक्रमण दर आगे-पीछे होती रहेगी, लेकिन राहत यह है कि इलाज के लिए लोग एडमिट नहीं हो रहे हैं या उन्हें इसकी जरूरत नहीं पड़ रही है। इसलिए बिना वजह पैनिक न फैलाएं, सभी को अलर्ट रहना है, नियमों का पालन करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here