bulldozer model in bihar: बिहार में अपराधियों पर नहीं, उनके मनोबल पर बुलडोजर चलाती है नीतीश सरकार: जेडीयू bihar me apradhion per nahi unke manobal per bulldozer chalati hai nitish sarkar JDU ke ajay alok bole

0
13


छपरा: बिहार के छपरा में हत्याकांड के फरार अभियुक्त के घर पुलिस जब बुलडोजर चलने पर मीडिया में सवाल उठे तो जेडीयू ने इसका जवाब दिया है। जेडीयू के प्रवक्ता अजय आलोक ने कहा कि बिहार में पिछले 15 साल से बुलडोजर चल रहा है। चारा घोटाले के पैसे से पटना में व्हाइट हाउस बिल्डिंग बनी थी, हमारी सरकार ने उसमें सरकारी ऑफिस खुलवा दिया। बिहार के तमाम भ्रष्ट अफसरों की अवैध संपत्ति पर कार्रवाई हुई है। इन अवैध निर्माण में या तो स्कूल खोल दिए गए या उसमें आंगनबाड़ी केंद्र का संचालन शुरू हो गया। अगर बिहार में कोई अपराधी फरार है, उसके खिलाफ कोर्ट से कुर्की जब्ती का आदेश है तो उसके ठिकानों पर बुलडोजर चलेगा।

अजय आलोक ने आगे कहा कि बिहार में अपराधियों को सीधे बुलडोज नहीं करते हैं, उनके हौंसलों पर बुलडोजर चलाते हैं। जो पिछले 17 साल नीतीश कुमार की सरकार कर रही है। जो भ्रष्टाचार के पैसों से संपत्ति बनाई गई उसे जब्त कर सरकारी संपत्ति बनाई है।

आरजेडी प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा, ‘अजय आलोक कहते हैं कि बिहार में अपराधियों का मनोबल धराशायी करने के लिए बुलडोजर चलता है, लेकिन साफ तौर से दिख रहा है कि प्रदेश में अपराधियों का मनोबल किस कदर बढ़ा है। नीतीश कुमार के गृह जिले में कोई व्यक्ति जाकर उनपर मुक्का चला देता है, तो काई सीएम की सभा में पटाखा बम जला देता है। ये बिहार में अपराधियों का मनोबल है। ये बेरोजगारी, भूखमरी और भ्रष्टाचार और अपराध पर पिछले 17 साल में बुलडोजर नहीं चला पाए। यूपी में जिस तरह से योगी मॉडल में बुलडोजर को प्रचारित किया गया, उसे अब हर राज्य में कहा जा रहा है। गरीबों पर बुलडोजर क्यों चला रहे हो। बुलडोजर चलाना है तो अपराध पर, महंगाई पर, बेरोजगारी पर चलाएं। केवल बातें करने से नहीं होगा। शराब माफिया, बालू माफिया के ठिकानों पर बुलडोजर चलाने की हिम्मत नहीं है इनमें। वैसे लोगों पर बुलडोजर चलाइए जो दंगाई हैं। लेकिन बुलडोजर उसपर चलाया जा रहा है जो बीजेपी को पसंद नहीं करते हैं।’

बिहार को क्राइम कंट्रोल के लिए किसी दूसरे के मॉडल की जरूरत नहीं: राम सूरत कुमार
सम्राट चौधरी ने कहा, ‘हमारे राजस्व मंत्री ने स्पष्ट रूप से कहा है कि जो अवैध कब्जा करेगा, उसपर बुलडोजर चलेगा।’ भूमि सुधार व राजस्व मंत्री राम सूरत कुमार ने कहा, ‘अगर बड़ा मकान होगा तो उसे गिराने के लिए जेसीबी या बुलडोजर बुलाना होगा। बिहार का अपना मॉडल है। सीएम नीतीश कुमार की अगुवाई में कार्रवाई करने में बिहार के अफसर और पदाधिकारी सक्षम हैं। माफिया हों, अतिक्रमण करने वाले हों, चाहे किसी पदाधिकारी का मकान हो, चाहे किसी कर्मचारी का हो, चाहे किसी नेता का मकान हो अगर अतिक्रमण पाया गया तो उसे गिराया जाएगा और अतिक्रमण खाली कराया जाएगा।’
UP News: किसी गरीब की झोपड़ी-दुकान पर नहीं, सिर्फ माफिया की अवैध संपत्ति पर चलेगा बुलडोजर…सीएम योगी ने दिए आदेश
बिहार में सरकारी जमीन पर अवैध कब्जे को खाली कराएगी सरकार
बिहार में जहां-जहां सरकारी जमीन पर अतिक्रमण है, अब सरकार उन जमीनों को अतिक्रमण से मुक्त कराएगी। इसके लिए बकायदा बुलडोजर तक की मदद ली जाएगी। इस काम के लिए हर जिले को 10-10 लाख रुपये दे भी दिए गए हैं। अप्रैल से जून के बीच सभी जिलों में एक साथ अतिक्रमण मुक्ति का अभियान चलेगा। अभियान के दौरान जिन जमीनों पर अतिक्रमण पाया जाएगा उन्हें ध्वस्त किया जाएगा।
बुलडोजर पर सियासत गरम… कुछ खास लोगों पर प्रहार या वाकई दंगाइयों को सबक सिखाने का हथियार?
भूमि सुधार व राजस्व मंत्री राम सूरत कुमार ने विधान परिषद में सदस्यों की शिकायत पर इसकी घोषणा की थी। उन्होंने सभी सदस्यों से यह आग्रह भी किया कि बुलडोजर चलेगा तो कोई सदस्य कृपया पैरवी मत कीजिएगा। मंत्री ने सदन को बताया कि सभी विभागों को कहा गया है कि वह अपनी जमीन की जमाबंदी करा लें। साथ ही अतिक्रमण हो तो इसकी सूचना भी दें। सरकार पैमाइश करा कर बुलडोजर चलाएगी और अतिक्रमण हटाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here