additional charge of Khargone SP to Rohit Kashwani: Formation of tribunal to recover damages from rioters additional charge of Khargone SP to Rohit Kashwani दंगाइयों से हर्जाना वसूलने के लिए न्यायाधिकरण का गठन, रोहित काशवानी को खरगोन एसपी का अतिरिक्त प्रभार

0
13


भोपाल/खरगोन : मध्य प्रदेश सरकार ने खरगोन शहर में रामनवमी के जुलूस के दौरान हुई सांप्रदायिक हिंसा में शामिल लोगों से नुकसान की वसूली के लिए दो सदस्यीय दावा न्यायाधिकरण का गठन ( Formation of tribunal ) किया है। एक अधिकारी ने बुधवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि न्यायाधिकरण के गठन के लिए मंगलवार को अधिसूचना जारी की गई है।

जारी अधिसूचना के अनुसार, रविवार को खरगोन शहर में हुई हिंसा ( Violence in Khargone on Ramnavami ) के दौरान हुए नुकसान के आकलन से संबंधित मामलों की सुनवाई के लिए सार्वजनिक एवं निजी संपत्ति वसूली अधिनियम-2021 के प्रावधानों के तहत न्यायाधिकरण का गठन किया गया है। अधिसूचना में कहा गया है कि सेवानिवृत्त जिला न्यायाधीश डॉ शिवकुमार मिश्रा और राज्य सरकार के सेवानिवृत्त सचिव प्रभात पाराशर की अध्यक्षता वाला न्यायाधिकरण तीन महीने की अवधि में काम पूरा करेगा। न्यायाधिकरण ऐसे मामलों में शामिल दंगाइयों से नुकसान की वसूली भी सुनिश्चित करेगा।

Khargone News: शिवराज सरकार ने किस कानून से तोड़े मुस्लिमों के घर? खरगोन में जेनेवा समझौते का उल्लंघन…ओवैसी का हमला
गौरतलब है कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ( CM Shivraj Singh Chauhan ) ने कहा था कि नुकसान का आकलन करने और दंगाइयों से नुकसान की वसूली के लिए न्यायाधिकरण का गठन किया जाएगा। रामनवमी के जुलूस के दौरान पथराव और आगजनी के बाद रविवार को पूरे खरगोन शहर में कर्फ्यू लगा दिया गया था। अब तक इस मामले में करीब 100 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

खरगोन से लेकर दुमका तक, रामनवमी के पावन मौके पर किसने की नापाक साजिश?
रोहित काशवानी खरगोन के प्रभारी एसपी
वहीं, मध्य प्रदेश सरकार ने बुधवार को भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के अधिकारी रोहित काशवानी को सिद्धार्थ चौधरी के स्थान पर दंगा प्रभावित खरगोन जिले का प्रभारी पुलिस अधीक्षक (एसपी) नियुक्त किया, जो रामनवमी जुलूस के दौरान हुई हिंसा में घायल होने के बाद छुट्टी पर हैं और इलाज करा रहे हैं।

रामनवमी पर बवालः मध्य प्रदेश सरकार ने आरोपी का मकान-दुकान ही ढहा दिया
अतिरिक्त मुख्य सचिव (एसीएस) गृह, डॉ राजेश राजोरा ने कहा कि फिलहाल विशेष सशस्त्र बल की 34वीं बटालियन के कमांडेंट के रूप में धार में तैनात 2017 बैच के आईपीएस अधिकारी काशवानी तब तक खरगोन के एसपी का अतिरिक्त प्रभार संभालेंगे, जब तक कि जिला पुलिस प्रमुख (चौधरी) ड्यूटी पर वापस नहीं आ जाते।

Khargone News : बुलडोजर चला तो भड़के मध्य प्रदेश के मौलाना, डीजीपी को लिखी ‘चेतावनी’ वाली चिट्‌ठी
बता दें कि रामनवमी के जुलूस पर पथराव के कारण खरगोन शहर में हुए दंगे को नियंत्रित करने के दौरान चौधरी के बाएं पैर में गोली लग गई। सिद्धार्थ चौधरी कुछ समय अस्पताल में बिताने के बाद घर पर ही इलाज करा रहे हैं। खरगोन में फिलहाल कर्फ्यू लागू है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here