राहत: कोविड संक्रमण दर बढ़ी, लेकिन राजधानी में 4 दिन में कम हो गए करीब 1300 कंटेनमेंट जोन

0
14


नई दिल्ली: राजधानी में इस समय कोविड संक्रमण रेट कुछ बढ़ता दिखाई दे रहा है। इसकी वजह से लोगों के मन में एक बार फिर कोरोना की वापसी के कयास लगने शुरू हुए हैं। लेकिन, इस बीच राजधानी में महज चार दिनों के दौरान 1300 के करीब कंटेनमेंट जोन खत्म कर दिए गए हैं। इससे बड़ी संख्या में लोगों को राहत मिली है।

कंटेनमेंट जोन का विरोध तभी से शुरू हो गया था, जब होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों की अवधि सात दिन की गई थी। इसके बावजूद कंटेनमेंट जोन 14 दिन के बनते रहे। इस नियम की वजह से हालात यह हो गए कि राजधानी में एक्टिव केस तो तेजी से कम होते गए, लेकिन उस अनुपात में कंटेनमेंट जोन कम नहीं हो रहे थे। कोविड की लगभग सभी पाबंदियां हटने के बावजूद काफी संख्या में लोग लॉकडाउन जैसी पाबंदियां मानने पर मजबूर थे।

Corona in Schools: NCR के स्कूलों में कोरोना के बढ़े मामलों ने गहराई चिंता, अब नोएडा डीपीएस से आई परेशान करने वाली खबर
राजधानी में 8 अप्रैल को कोविड के एक्टिव मरीजों की संख्या 377 के करीब थी, लेकिन उसी दिन कंटेनमेंट जोन 2040 थे। यानी कई कंटेनमेंट जोन ऐसे थे, जिनमें एक भी एक्टिव मरीज नहीं था। इसके बावजूद उनमें रहने वाले लोग लॉकडाउन जैसे हालात में रहने पर मजबूर थे। वहीं कंटेनमेंट जोन के बाहर बढ़ाए गए सिविल डिफेंस के वॉलंटियरों को भी काफी परेशानियां हो रही हैं। लोग अपना गुस्सा और झुंझलाहट उन पर निकालने लगे थे। लेकिन 12 अप्रैल को कंटेनमेंट जोन की यह तादाद कम होकर 377 रह गई है। यानी महज चार दिन में 1299 कंटेनमेंट जोन कम किए गए हैं। सबसे अधिक कमी 9 अप्रैल को की गई। एक ही दिन में कंटेनमेंट जोन में 1256 की कमी की गई। 9 अप्रैल को इनकी संख्या महज 804 रह गई। इसके बाद से रोज इनकी संख्या कम हो रही है।

Delhi Corona Updates: दिल्ली में कोरोना के 137 नए मामले, 144 मरीज हुए डिस्चार्ज, स्वस्थ होने वालों की संख्या संक्रमितों से अधिक
अधिकारियों के अनुसार, अब जिन इलाकों में लोग कोरोना से रिकवर हो रहे हैं और जहां एक भी कोविड का मरीज नहीं है, उन्हें डी-कंटेन किया जा रहा है। इससे कंटेनमेंट जोन की संख्या भी तेजी से कम हो रही है। बीते कई महीनों से लोग कंटेनमेंट जोन कम न होने की वजह से परेशान हैं। इसे लेकर स्वास्थ्य विभाग से भी कहा गया था। अब कई इलाकों को डी-कंटेन किया जा रहा है। 11 अप्रैल को राजधानी में एक्टिव मरीज 601 थे, जबकि कंटेनमेंट जोन की संख्या 741 रही।

किस तरह घट रहे हैं राजधानी में कंटेनमेंट जोन

  • 11 अप्रैल – 741
  • 10 अप्रैल – 763
  • 9 अप्रैल – 804
  • 8 अप्रैल – 2040
  • 7 अप्रैल – 2640
  • 6 अप्रैल – 2662
  • 5 अप्रैल – 2685

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here